रिश्ते (Rishte)

फटी जेब से गिर जाएँ जो
उन रिश्तों का गिरना ही बेहतर
फटी जेब को सिल जाएँ जो
उन रिश्तों को रखना सहेजकर।
phatee jeb se gir jaen jo 
un rishton ka girna hee behatar
phatee jeb ko sil jaen jo 
un rishton ko rakhana sahejakar.

मनीष कुमार श्रीवास्तव (Maneesh Kumar Srivastava)